जब खाना ख़त्म करें

दुआ जब खाना ख़त्म करें

जब खाना खा चुके तो यह दुआ पढ़े

अल हम्दु लिल्लाहिल्लज़ी अत-अ-म-ना व सक़ाना व ज-अ-ल-ना मुस्लिमीन।

तर्जुमा- सब तारीफें ख़ुदा के लिए हैं, जिसने हमें खिलाया और पिलाया और मुसलमान बनाया। -इब्नुस्सिन्नी

या यह पढ़े

अल् हम्दु लि ल्लाहि ल्लज़ी हु-व अश-ब-अ-ना व अर्वाना व अन-अ-म अलैना व अफ़-ज़-ल।

तर्जुमा- सब तारीफें ख़ुदा ही के लिए हैं, जिसने हमारा पेट भरा और हमें सैराब किया और हमें इनाम दिया और बहुत दिया। खाना खाने के शुरू में बिस्मल्लाहि व अला ब-रकतिल्लाहि और आख़िर में इस दुआ के पढ़ लेने से क़ियामत के दिन इस खाने की पूछ न होगी। -हिस्न (हाकिम)

या यह पढ़े

अल्लाहुम-म बारिक लना फ़ीहि व अत् इमना खैरम मिन्हु०

तर्जुमा- ऐ अल्लाह! तू हमें इसमें बर-कत फरमा और इससे बेहतर नसीब फ़रमा। -तिर्मज़ी

या यह पढ़े

अल् हम्दु लिल्लाहिल्लज़ी अत-अ-म-नी हाज़तआ-म र-ज़-क़नीहि मिन रौरि हौलिम मिन्नी व ला कूव तिन०

तर्जुमा- सब तारीफें ख़ुदा ही के लिए हैं, जिसने मुझे  यह खाना खिलाया और मुझे नसीब किया बरौर मेरी ताक़त और कोशिश के।

खाने के बाद इस को पढ़ लेने से पिछले गुनाह माफ़ हो जाते हैं। -मिश्कात

जब खाना ख़त्म करें वीडियो

यह सामग्री “Masnoon Duain with Audio” ऐप से ली गई है आप यह एंड्रॉइड ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। हमारे अन्य इस्लामिक एंड्रॉइड ऐप और आईओएस ऐप देखें।

Share this:
error: Content is protected !!