फोड़ा कुंसी की दुआएं​

foda funsi ki dua

फोड़ा कुंसी की दुआएं

बदन में किसी जगह तक्लीफ़ हो या फोड़ा-फ़ुन्सी हो तो यह पढ़े 

या घाव हो तो शहादत की उंगली को मुंह के लुआब में भर कर ज़मीन पर रख दे और फिर उठा कर तक्लीफ़ की जगह पर फ़ेरते हुए यह पढ़े-

बिस्मिल्लाहि तुर्बतु अर्जिना बिरीक़ति बअज़िना लि युश्फ़ा सक़ीमुना बिइज़्नि रब्बिनाo

तर्जुमा- मैं अल्लाह के नाम से बरकत हासिल करता हूं। यह हमारी ज़मीन की मिट्टी है जो हम में से किसी के थूक में मिली हुई है ताकि हमारी बीमारी को हमारे रब के हुक्म से शिफ़ा हो। -बुखारी व मुस्लिम  

अगर बदन में किसी जगह दर्द हो या कोई और तक्लीफ़ हो तो तक्लीफ़ की जगह दाहिना हाथ रख कर तीन बार बिस्मिल्लाह कहे, फिर सात बार यह पढ़े-

अऊजू बिल्लाहि व कुदर तिही मिन शर्रि मा अजिदु व उहाज़िरूo

तर्जुमा- अल्लाह की ज़ात और उस की कुदरत की पनाह लेता हूं उस चीज़ की बुराई से, जिस की तक्लीफ़ पा रहा हूं और जिससे डर रहा हूं। -हिस्न

यह सामग्री “Masnoon Duain with Audio” ऐप से ली गई है आप यह एंड्रॉइड ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। हमारे अन्य इस्लामिक एंड्रॉइड ऐप और आईओएस ऐप देखें।

Share this: