Surah Al-Lahab in Hindi

हिन्दी में सूरह अल-लहब

यह सूरह मक्की है, इस में 5 आयतें हैं। इस की आयत 1 में तब्बत शब्द आने के कारण इस का नाम सूरह तब्बत है। जिस का अर्थ तबाह होना है।

सूरह अल-लहब हिन्दी में

  • बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम
  1. तब्बत यदा अबी लहबिव वतब्ब
  2. मा अगना अन्हु मलुहू वमा कसब
  3. सयसला नारन ज़ात लहब
  4. वम रअतुहू हम्मा लतल हतब
  5. फिजीदिहा हब्लुम मिम मसद

हिंदी अनुवाद के साथ सूरह अल-लहब

बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम
अल्लाह के नाम से, जो अत्यन्त कृपाशील तथा दयावान् है।

  1. तब्बत यदा अबी लहबिव वतब्ब
    अबू लहब के दोनों हाथ नाश हो गये और वह स्वयं भी नाश हो गया!
  2. मा अगना अन्हु मलुहू वमा कसब
    उसका धन तथा जो उसने कमाया उसके काम नहीं आया।
  3. सयसला नारन ज़ात लहब
    वह शीघ्र लावा फेंकती आग में जायेगा।
  4. वम रअतुहू हम्मा लतल हतब
    तथा उसकी पत्नी भी, जो ईंधन लिए फिरती है।
  5. फिजीदिहा हब्लुम मिम मसद
    उसकी गर्दन में मूँज की रस्सी होगी।

Surah Al-Lahab in English

Bismillaahir Rahmaanir Raheem

  1. Tabbat yadaa abee Lahabinw-wa tabb
  2. Maa aghnaa ‘anhu maaluhoo wa ma kasab
  3. Sa-yaslaa naaran zaata lahab
  4. Wamra-atuhoo hammaa latal-hatab
  5. Fee jeedihaa hablum mim-masad

Surah Al-Lahab English Translation

In the name of Allah, Most Gracious, Most Merciful.

  1. Perish the hands of the Father of Flame! Perish he!
  2. No profit to him from all his wealth, and all his gains!
  3. Burnt soon will he be in a Fire of Blazing Flame!
  4. His wife shall carry the (crackling) wood – As fuel!-
  5. A twisted rope of palm-leaf fibre round her (own) neck!
Share this:
error: Content is protected !!