सूरह दुहा हिंदी में​

सूरह दुहा

सूरह अद-दुहा कुरान के 30 वें पारा में मौजूद है। यह मक्की सूरह है। इस सूरह का नंबर 93 है और इस मे कुल 11 आयतें है।

सूरह अद-दुहा हिंदी में

बिस्मिल्लाह-हिर्रहमानिर्रहीम

  1. वद दुहा
  2. वल लैलि इजा सजा
  3. मा वद दअका रब्बुका वमा क़ला
  4. वलल आखिरतु खैरुल लका मिनल ऊला
  5. व लसौफ़ा युअ’तीका रब्बुका फतरदा
  6. अलम यजिद्का यतीमन फआवा
  7. व वजदाका दाललन फ हदा
  8. व वजदाका आ इलन फअग्ना
  9. फ अम्मल यतीमा फ़ला तक्हर
  10. व अम्मस सा इला फ़ला तन्हर
  11. व अम्मा बि निअ’मति रब्बिका फ हददिस

सूरह अद-दुहा वीडियो

सूरह अद-दुहा तर्जुमा के साथ हिंदी में

बिस्मिल्लाह-हिर्रहमानिर्रहीम
अल्लाह के नाम से, जो बड़ा मेहरबान निहायत रहम बाला है।

  1. वद दुहा
    चढ़ते हुए रोशन दिन की क़सम
  2. वल लैलि इजा सजा
    और रात की क़सम जब कि छा जाये
  3. मा वद दअका रब्बुका वमा क़ला
    आप के रब ने न आप को छोड़ा और न आप से नाराज़ हुआ
  4. वलल आखिरतु खैरुल लका मिनल ऊला
    और बाद में आने वाले हालत आप के लिए पहले वाले हालात से ज़्यादा बेहतर हैं
  5. व लसौफ़ा युअ’तीका रब्बुका फतरदा
    और जल्द ही आप का रब आपको इतना नवाजेगा कि आप खुश हो जायेंगे
  6. अलम यजिद्का यतीमन फआवा
    क्या उसने आपको यतीम नहीं पाया तो उसने ठिकाना दिया
  7. व वजदाका दाललन फ हदा
    आपको रास्ते से नावाकिफ़ पाया तो रास्ता दिखाया
  8. व वजदाका आ इलन फअग्ना
    आप को ग़रीब पाया तो दौलतमंद कर दिया
  9. फ अम्मल यतीमा फ़ला तक्हर
    अब जो यतीम है उस पर सख्ती मत करना
  10. व अम्मस सा इला फ़ला तन्हर
    और मांगने वाले को झिड़कना नहीं
  11. व अम्मा बि निअ’मति रब्बिका फ हददिस
    और जो तुम्हारे परवरदिगार की नेअमत है उसका तज़करा करते रहना

सूरह अद-दुहा उर्दू में वीडियो तर्जुमा के साथ

Surah Adh-Dhuha in Arabic

para30_43 1
para30_44
Share this:

Leave a Comment

error: Content is protected !!